http://2.bp.blogspot.com/_x0R6CK72Rpc/TBixL678IwI/AAAAAAAADRI/Guiamxo_RVE/S970-R/cartoon+institute+logo.jpg
आप कार्टूनिस्ट हैं और आपने अभी तक अपना ब्लॉग नहीं बनाया है तो कृपया अभी अपना ब्लॉग बनाएं। यदि कोई परेशानी हो तो केवल हिन्दी में अपना ब्लॉग बनवाने के लिए आज ही सम्पर्क करें-चन्दर

कार्टूनेचर फ़ीचर सेवा

खोज

लोड हो रहा है. . .

गुरुवार, 25 सितंबर 2014

कार्यशाला

दो दिवसीय फाउण्डेशन कार्टून कार्यशालाएं
cw01.JPGइण्डियन इन्स्टीट्यूट ऑफ़ कार्टूनिस्ट्स २६ व २८ सितंबर तथा २५ व २६ अक्टूबर, २०१४ (शनिवार और रविवार) २ दिवसीय फाउंडेशन कार्टून कार्यशालाएं आयोजित कर रहा है। इच्छुक प्रतिभागी  अपना नाम, डाक पता, उम्र, शिक्षा, व्यवसाय  विवरण भेज सकते हैं। आयु की कोई सीमा नहीं है।
स्थान: भारतीय कार्टून गैलरी, नंबर १, मिडफ़ोर्ड हाउस, 
मिडफ़ोर्ड गार्डन, एमजी रोड, निकट बिग किड्स’ केम्प 
बिल्डिंग के पास, ट्रिनिटी सर्किल, बंगलूर -५६०००१  
• फोन: ०८०-४१७५८५४०, ०९९८००९१४२८ (080-41758540, 09980091428) 
• ईमेल: info@cartoonistsindia.com   cartoonistsindia@gmail.com
• वेबसाइट: www.cartoonistsindia.com 

बुधवार, 10 सितंबर 2014

वन्यजीवन कैरीकेचर

 रोहन चक्रवर्ती का एक आकर्षक चित्रण
वन्यजीवन के चित्र
इण्डियन इन्स्टीट्यूट ऑफ़ कार्टूनिस्ट्स द्वारा १०१वीं कार्टून प्रदर्शनी ‘वाइल्डलाइफ़ द टूनी वे’ आयोजित की जा रही है। १३ से २७ सितम्बर २०१४ तक आयोजित होने वाली यह कार्टून प्रदर्शनी वन्य जीवन संरक्षण को समर्पित है।  
बंगलूर स्थित इण्डियन इन्स्टीट्यूट ऑफ़ कार्टूनिस्ट्स (आईआईसी) की गैलरी में पहली बार रोहन चक्रवर्ती के वन्यजीवन से जुड़े कैरीकेचर प्रदर्शित किये जाएंगे। 
आप सभी कार्टूनिस्ट और कार्टूनप्रेमी सादर आमन्त्रित हैं।
प्रदर्शनी  
• दिनांक १३ से २७ सितम्बर २०१४ तक  
•  समय: प्रात: १०.०० से सायं ०६.०० बजे तक
• स्थान: इण्डियन इन्स्टीट्यूट ऑफ़ कार्टूनिस्ट्स,
# 1, मिडफ़ोर्ड हाउस, मिडफ़ोर्ड गार्डन, 
एमजी रोड, बंगलूर-560001 (भारत)
• सम्पर्क: वीजी नरेन्द्र, प्रबन्धन ट्रस्टी,
फोन: ०८०-४१७५८५४० (080-41758540), मोबाइल: ०९९८००९१४२८ (09980091428)
• वेब स्थल: www.cartoonistsindia.com 
• ई-मेल: info@cartoonistsindia.com 
            cartoonistsindia@gmail.com 
• फ़ेसबुक:  http://www.facebook.com/pages/Indian-Institute-of-cartoonists/249178643402




बुधवार, 6 अगस्त 2014

कार्टूनिस्ट प्राण

चाचा चौधरी के जन्मदाता
कार्टूनिस्ट प्राण नहीं रहे 












५ अगस्त/कल/मंगलवार की रात कार्टूनिस्ट प्राण का निधन हो गया। प्राण ने सन १९६० से कार्टून बनाने की शुरुआत की थी। उन्होंने आरम्भ में दिल्ली से प्रकाशित होने वाले अख़बार मिलाप में कार्टून बनाए।
हिंदी बाल पत्रिका लोटपोट के लिए उन्होंने ’चाचा चौधरी’ को जन्म दिया। यह पात्र बाद में काफ़ी लोकप्रिय हो गया। जल्दी ही यह एक स्वतंत्र कॉमिक्स के तौर पर बहुत प्रसिद्ध हो गया। चाचा चौधरी को लेकर एक टीवी सीरियल भी बनाया गया था जिसे बच्चों और बड़ों ने खूब पसन्द किया। प्राण के बनाए अनेक कार्टून पात्र जैसे चाचा चौधरी, साबू, रमन, श्रीमतीजी, बिल्लू आदि घर-घर में सभी की पसन्द बन गये।
प्राण भारतीय कॉमिक जगत के पर्याय ही बन गये। कार्टूनिस्ट प्राण को भारत का वाल्ट डिजनी भी कहा जाता है। वे सबसे सफल कार्टूनिस्टों में से एक गिने जाने लगे। वे डायमंड कॉमिक्स से लम्बे समय से जुड़े हुए थे। उन्हें लोकप्रियता और धन दोनों ही भरपूर मिले।
उनका जन्म १५ अगस्त, १९३८ को लाहौर में हुआ था. उनका पूरा नाम प्राण कुमार शर्मा था, लेकिन वो प्राण के नाम से ही जाने जाते थे।
नमन...श्रद्धांजलि! 
देखें-
http://www.cartoonnewshindi.blogspot.in/2013/08/blog-post_14.html   http://www.bbc.co.uk/hindi/india/2014/08/140806_pran_cartoonist_no_more_pk.shtml

कार्टूनेचर फ़ीचर सेवा

कार्टून न्यूज़ हिन्दी झरोखा